Was Vasco Da Gama Discover India
Was Vasco Da Gama Discover India
hindivishwa.in>>Was Vasco Da Gama Discover India ?

भारत प्राचीन देश है | यहाँ के ॠषि मुनियोने अपने तपोबल और साधना के द्वारा अनगिनत शोध लगाये थे | इन शोधोंका लाभ आज भी विश्व के लिये हो रहा है | आयुर्वेद और योग जो ॠषि मुनियोंकी देन है उसका लाभ आज भी पुरे जग को हो रहा है | गणित, रसायन शास्त्र , स्थापत्य शास्त्र , वनस्पति , कृषि आदी में भारत ने किया हुआ संशोधन आज भी विश्व के लिये उपयुक्त है |

दुर्भाग्य वश से आज के भारत की शिक्षण पद्धति है वों ब्रिटिशो द्वारा तयार कि गयी है | इसीलिए वों खुद का उदात्तीकरण तो करेंगे ही | लेकिन स्वतंत्रता के बाद भी हमने ये शिक्षण पद्धति अभी तक  बदली नहीं ये हमारा दुर्दैव है |

Was Vasco Da Gama Discover India ? क्या वास्को द गामा ने भारत को खोजा था ?

उसी का एक उदाहरण आज हम देखेंगे | आज हमें ऐसे पढाया जाता है की भारत को जानेवाला समुद्री मार्ग वास्को द गामा ने खोजा था | आज हम पाठशाला में जा रहे विद्यार्थी से पूछेंगे की भारत का शोध किसने लगाया तो जवाब आएगा वास्को द गामा ने | सच बात क्या है ? क्या सचमुच भारत का शोध वास्को द गामा ने लगाया था ? वों आज हम इस लेख में देखेंगे |

प्रसिद्ध पुरातत्व शास्त्रज्ञ पद्मश्री डॉक्टर विष्णू श्रीधर वाकणकर इन्होने बताया था की वों पढाई के लिये इंग्लैंड गए थे | उस समय एक संग्रहालय में वों गए थे | उधर उनको वास्को द गामा की डायरी पढने को मिली |

उस डायरी में वास्को द गामा ने भारत में वों कैसा पहुंचा इसके बारे में लिखा है | उसने लिखा है की जब मेरा जहाज अफ्रीका के zanzibar के नजदीक आया तब उसने अपने जहाज से तीन गुना बड़ा जहाज वहा पर देखा | कुतुहलवश एक अफ्रीकन दुभाषा को साथ में लेकर वास्को द गामा उस बड़े जहाज के मालिक से मिलने के लिये गया | उस जहाज के  मालिक का नाम चंदन था | वों एक भारतीय व्यापारी था | बहुतही साधे वेश में वों उधर बैठा था | उसका सागवान और मसालों का कारोबार था | चंदन व्यापारी ने वास्को द गामा को किधर जा रहे हो ऐसा पुच्छा | तब वास्को द गामा ने मुझे भारत देखना है ऐसा कहा | तब चंदन ने उसे कहा की कल सुबह मै भारत को जा रहा हू मेरे पीछे आप आओ |

इस प्रकार चंदन व्यपारी के पीछे पीछे आक़े वास्को द गामा भारत में पंहुचा |

इधर ध्यान देने वाली बात ऐसे है की वास्को द गामा के जहाज से तीन गुना बड़ा जहाज चंदन का था | इतने बड़े जहाज उस समय सिर्फ़ भारत में ही बनाये जाते थे | नौकाशास्त्र भारत में बहुतही विकसित था |

ये घटना खुद वास्को द गामा ने आपने डायरी में लिखी है | और हमारे पाठशालाओमे आज भी ब्रिटिश लोगों ने लिखा हुआ इतिहास पढाया जा रहा है की भारत की खोज वास्को द गामा ने की थी |

हम ऐसे विषय लेके आपके सामने आयेंगे | आपको Was Vasco Da Gama Discover India ?ये विषय कैसे लगा ये हमें जरुर बताइए |

अन्य पढ़े : –

नीम का महत्व

पेड़ों का महत्त्व

सुधा मूर्ति