Hindi Vishwa >> Inspirational >> Successful Women  Infosys Founder Sudha Murthy in Hindi

सुधा मूर्ति एक प्रेरणादायी व्यक्तित्व

Successful Women  Infosys Founder Sudha Murthy in Hindi

आज हम देखेंगे कहानी एक ऐसे औरत की जिन्होंने बहोत बड़ी कामयाबी हासिल की है | ये  है Successful Women  Infosys Founder Sudha Murthy In Hindi|  ये एक जानीमानी लेखिका है | एक सामाजिक कार्यकर्ती है | इतनाही नहीं ये  Infosys foundation की अध्यक्ष भी है | आइये देखते है  इनके बारेमे अधिक जानकारी |

Successful Women  Infosys Founder Sudha Murthy In Hindi
Sudha Narayan Murthy

सुधा मूर्ती इनका जन्म १९ अगस्त १९५० में हुआ | कर्नाटकके शिगाव नामके एक गावमे  इनका जन्म हुआ | शादीसे पहले इनका नाम सुधा कुलकर्णी ऐसा था |

पुराने जमानेमे जब लडकिया जादा पढ़तीभी नहीं थी तब इन्होंने इंजीनियरिंग तक पढ़ाई की थी | कर्नाटकके B. V. B. College Of Engineering से इन्होने B.E. किया | इन्होने इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग सिर्फ़ पास ही नहीं किया बल्क़ि कर्नाटक राज्य की सारी युनिव्हर्सिटीमें वों फर्स्ट आयी थी | इसके लिये कर्नाटक के मुख्यमंत्रीने  इनको मेडल भी दिया था |

१९७४ में सुधाजीने Indian Institute Of Science से Coumputer में Master की डिग्री प्राप्त कर ली |

टेल्को कम्पनीमें ट्रेनी इंजीनियर के पद की भर्ती करनी थी इसलिये इसका विज्ञापन अखबारमें आया था | सुधाजी ने वों पढ़ा लेकिन वों सिर्फ़ पुरुषोंके लिये ही था | वों पढ़कर सुधाजीने JRD TATA इनको एक पत्र लिखकर ये बात बताई | बादमे उन्हें Interview के लिये बुलाया गया | वहा भी सुधाजी Interview में अच्छी तरहसे पास हो गयी और उनका सिलेक्शन हो गया | इस तरहसे वह टेल्को कंपनीकी पहिली अभियंता हो गयी |

टेल्को कंपनीमें जॉब करते उन्होंने पुणे, मुंबई, जमशेदपुरमें काम किया | पुनेमे उनकी पहचान नारायण मुर्ति इनसे हो गयी | बाद में इन दोनोंने शादी कर ली | इन दोनोंको एक लड़का और एक लड़की है |

श्री नारायण मुर्ति इनको बिज़नस करना था लेकिन उनके पास पैसे नहीं थे | उन्होंने अपनी इछ्या सुधाजीको बताई तो इन्होने अपने जमा किये हुए १०००० रूपये तुरन्त उनको दे दिये | उन्होंने इन्फोसिस की स्थापना की | इन्फोसिस की स्थापना में सुधाजी का बहोत बड़ा सहभाग रहा है | इन्फोसिस फाउंडेशन सामाजिक कार्य करने वाली संस्था की निर्मितीमें भी सुधाजीका बड़ा सहभाग रहा है |

सुधाजी की पहचान इतनिसीही नहीं है | अन्य क्षेत्रों में भी ये कार्य करती है | उनके बारेमे भी थोड़ी जानकारी लेते है |

  • सुधाजी ने ख्रायिस्ट कॉलेज में प्राध्यापिका का काम किया है |
  • सुधाजीने बेंगलोर यूनिवर्सिटी में काम किया है |
  • इन्होने सामाजिक क्षेत्र में भी काम किया है |
  • कर्नाटक सरकारकी सभी पाठशालामें उन्होंने Coumputer और लायब्ररी उपलब्ध करके दी है |
  • इन्फोसिस फाउंडेशन के माध्यमसे अलग अलग क्षेत्र में सामाजिक कार्य किया है |
  • कर्नाटक के ग्रामीण क्षेत्र और बेंगलोर शहर के आसपास उन्होंने संस्था के माध्यमसे करीब १०००० शौचालय बांधकर दिये है |
  • मुर्ती लायब्ररी ऑफ़ इंडिया के नाम से उन्होंने हार्वर्ड यूनिवर्सिटीमें ग्रंथालय भी शुरू किया है |

सुधाजी एक प्रसिद्ध लेखिकाभी है उन्होंने मराठी कन्नड़  इंग्लिश आदि भाषा में बहोत पुस्तके लिखी है | उनमेसे कई नाम निचे दिए है |

सुधा मूर्ति के द्वारा लिखी गईं किताबें – Sudha Murthy Books

 

  • अस्तित्व                    The Old Man And His God
  • आजीच्या पोतडीतील गोष्टी Doller Bahu
  • आयुष्याचे धड़े गिरवताना              Three Thousand Steches
  • बकुळ
  • गोष्टी माणसाच्या
  • थैलीभर गोष्टी
  • परिघ
  • पितृऋण
  • पूण्यभूमी भारत

 

सुधाजी को कई पुरस्कार भी मिले है उनके नाम निचे दिये है |

  • १९९५ Best Teacher Award
  • २००१ ओजस्विनी पुरस्कार
  • २००४ राजलक्ष्मी पुरस्कार
  • २००६ भारत सरकार द्वारा पद्मश्री पुरस्कार
  • २००६ साहित्य क्षेत्र में योगदान के लिये आर के नारायण पुरस्कार
  • २०१० भारत अस्मिता राष्ट्रीय पुरस्कार
  • सत्यभामा यूनिवर्सिटी की ओर से सन्माननीय डॉक्टरेट पदवी

ये थी सुधा मूर्ति इनकी कहानी Successful Women  Infosys Founder Sudha Murthy In Hindi जो हम सबके लिये बहोत ही प्रेरणा दायी है |

Read More

How To get Peace Of Mind 

Paytm Founder Vijay Sharma