Paytm Founder Vijay Shekhar Sharma Youngest Indian Billionair In Hindi

पेटीएम् संस्थापक विजय शर्मा की प्रेरणादायी जीवनी – Paytm Founder Vijay Shekhar Sharma Youngest Indian Billionair In Hindi

Paytm Founder Vijay Shekhar Sharma Youngest Indian Billionair In Hindi
विजय शेखर शर्मा

 विजय शेखर शर्माजी ने भारत के युवाओंके के सामने एक आदर्श खड़ा किया है | जो जो युवा उद्योग शुरू करना चाहते है उन्होंने विजय शेखर शर्माजी की जीवनी अवश्य पढनी चाहिये | Paytm Founder Vijay Shekhar Sharma Youngest Indian Billionair In Hindi  इस लेख में हम उनके बारे में सविस्तर जानकारी लेंगे |

 

विजय शर्मा  : एक दृष्टिक्षेप Vijay Shekhar Sharma Profile 

 

नाम                     :  विजय शेखर शर्मा                                    

जन्म                    :   ८ जुलाई १९७३                                                                

जन्मस्थल                :   उत्तरप्रदेश ( जिल्हा : अलीगढ , गाव : विजयगढ़ )

व्यवसाय                 :   संस्थापक Paytm और One97 Communications                                                             Limited

 

बचपन और प्रारम्भिक जीवन

विजय शर्माजी का जन्म ८ जुलाई १९७३ में अलीगढ उत्तर प्रदेश में हुआ | उनके पिता शिक्षक थे | घर में उन्हें बहुत अच्छे संस्कार मिले जो उनको आगे जाके बहुत ही काम में आये | विजय बचपन से ही पढाई में बहुत ही तेज थे | उनकी पढाई हिंदी माध्यम में हुई | अभी ऐसा माना जा रहा हें जो बचपन में मातृभाषा में शिक्षा  लेते है उन्हें पढाई करना बहोत  ही आसान हो जाता है और वों बच्चे अच्छी तरह से ग्रहण भी कर सकते है | विजय बुद्धिमान थे इस लिये वों हमेशा अपनी कक्षा में पहेले आते थे | कक्षा १२th की परीक्षा उन्होंने  १४ वर्षों में ही उत्तीर्ण की थी |

विजय ने आपनी अंग्रेजी भाषा अख़बार, मैगजीन, किताबें पढ़कर सुधारी |

 

महाविद्यालयीन जीवन और व्यवसाय की शुरुवात

आगे की पढाई के लिये उन्हें अलीगढ छोड़ना पडा | विजय ने Delhi College of Engineering में एडमिशन ले लिया   महाविद्यालय से  ही वों Hotmail के साबिर भाटिया और अलीबाबा के जेक मा इनसे प्रभावित हुए थे | जभ भी समय मिलता तो वे सॉफ्टवेयर कोडिंग सिखाते थे | उनका बिजनेस का सफ़र महाविद्यालयीन जीवन से ही प्रारम्भ हुआ | उन्होंने मित्रोंके साथ मिलकर कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टिम (indiasite.net) बनाया | इस सिस्टम को आगे चल कर  Indian Express सहित सारे बड़े अखबार प्रयोग करने लगे। कुछ साल ये कम्पनी चलाने के बाद एक अमरिकी कम्पनी से इसका सौदा किया और ये कंपनी बेच दी | इसको बेचने से उनको 1 मिलियन डॉलर मिले  | और उसी कम्पनी में ही वे खूद उसमे नोकरी करने लगे | करीब १ साल वहा नोकरी की | लेकिन उनका मन उसमे नहि लगता था | शुरू से ही उनको बिज़नस में रूचि थी इसके कारण उन्होंने  फिरसे खुदका कारोबार शुरू किया |

   २००१ में उन्होंने one97 नामकी कंपनी शुरू कर दी |  धीरे धीरे इसका कारोबार बढ़ता गया | शुरू में इस कम्पनीने मोबाईल के जरिये एग्जाम रिजल्ट,  समाचार देना,  क्रिकेट की जानकारी , रिंगटोन, जोक्स आदी जैसी चीजे उपलब्ध करवा के दी  |  कंपनी का कारोबार ठीक तो चल रहा था लेकिन कुछ अच्छी तरहसे बढ़ नहीं रहा था |

   २०११ में आई आर्थिक मंदी जैसे कारणवश इस कंपनी का बहोत बड़ा नुकसान हो गया | कई बड़ी कंपनी यों से पैसे नहीं मिलने के कारण ये कंपनी घाटेमें आ गयी | उनके पास तो कम्पनी चलानेके लिये भी पैसे नहीं बचे थे | फिर उन्होंने अपने मित्र एवम रिश्तेदारोंसे २४% की ब्याज़दर से कुछ रूपये उधार ले लिये लेकिनये कम्पनी के लोगोंकी सैलरी, रेंट जैसे चीजोंपर ही वों सब पैसे खर्च हो गए | उनके सामने  पैसोकी बडिही समस्या थी |

  उन्होंने खुद भी कई चीजे त्याग कर दी | अपनी कार छोडकर वे बस या ऑटो से जाने लगे | कई समय तो खाना खाने के बजाय चाय पर ही वों अपना दिन गुजार देते थे | ऐसे कठिन समय पर तो कोई भी व्यक्ति अपनी हिम्मत हार जाता है, डिप्रेशन में जाता है |  लेकिन विजय शेखर शर्माने ऐसा होने नहीं दिया  | उन्होंने अपनी हिम्मत नहीं हारी और उन्होंने होसला भी  नहीं छोड़ा | आया हुआ संकट का सामना करने के लिये वों फिरसे खड़े हो गए | वों फिरसे नोकरी करने लगे | लेकिन तभी वों बिज़नस का ही विचार करते थे |

 

Paytm की स्थापना

उनके दिमाग में ये आयडिया आया की स्मार्ट फोन पे कुछ काम कर सकते है | उनके तो पहलेसे ही hotmail के साबिर भाटिया  और अलीबाबा के जेक मा आदर्श थे | और फिर उन्होंने Paytm  की शुरुवात की | शुरू में mobile का recharge करना,  bus ticket, airbus ticket, online purchase करना आदी शुरू कर दिया | इसके साथही Ecommerce कारोबार paytm mall और paytm payments bank भी खड़ा किया  ये सुविधा देने वाली और भी कंपनीया उस वक्त थी | लेकिन paytm को  आसानीसे  इस्तमाल की सुविधा के कारण paytm पॉपुलर हो गया और इसका इस्तेमाल करने वाले लोगोंकी संख्या बढने लगी | paytm के कारण छुट्टे पैसे की प्रॉब्लम से कुछ आसानी होने लगी बादमे नोटबंदी के काल में तो जैसे चमत्कार ही हो गया | और paytm का कारोबार  कहासे कहा पहुच गया|  paytm के २५ करोड़ से ज्यादा पंजीकृत यूजर्स है

 paytm की शुरुवात करने वाले विजय शेखर शर्मा ने बड़ी ही कामयाबी हासिल की है | इस मोबाइल wallet के क्षेत्रमें तो उन्होंने क्रांति कर दी है |  इसके कारण वों आज सबसे अमीर लोगोंकी सूचि में पोहोंच गये और भारत के सबसे युवा अरबपति बन गये|

Paytm Founder Vijay Shekhar Sharma Youngest Indian Billionair In Hindi
विजय शेखर शर्मा

 दरअसल फोर्ब्स की सूचि में दुनियाभर की अरबपती  लोगोंकी लीस्ट में भारत के ११९ उद्योगपतीयों को जगह मिली है |  फोर्ब्स के अनुसार श्री विजय शेखर शर्मा उनकी संपत्ति १.७ bilion doller इतनी है | फोर्ब्स की विश्व की {वर्ष – 2017} जो सूचि है उसमे विजय शर्माजी का नाम १३९४ क्रमांक पे है और भारत की जो सूचि है उसमे ९९ क्रमांक पे है |

अमेरिका स्थित प्रसिद्ध अरबपति वोरेन बफे अपनी कंपनी, वर्कशायर  हैथवे के माध्यम से भारत में निवेश करने के लिये उत्सुक है । paytm में वे पचीसो कोटि रुपये निवेश करनेवाले है | Paytm ने भारत में आर्थिक व्यवस्थओमे आमूलाग्र बदल किये है  और उनकी ये प्रगतिसे हम प्रभावित हो गए है ऐसी प्रातक्रिया वर्कशायर  हैथवे के टॉड कोम्बस इन्होने दी है |

इसके ऊपर Paytm के संस्थापक विजय शर्मा ने कहा है की देश के पचास कोटि नागरिकोंको मुख्य आर्थिक प्रवाह में लाना ये Paytm का मुख्य उद्देश है और इसके लिये वर्कशायर के अनुभव का हमें फायदा होगा |

Paytm Founder Vijay Shekhar Sharma Youngest Indian Billionair In Hindi – ये लेख आपको कैसे लगा ये हमें जरुर बताइये |

ऐसे और लेख पढना चाहते हो तो निचे दिए link को  click  करे

इंद्रा नूयी

बच्चिन्द्र पाल