Things You Need To Know About Ganga River In Hindi 

Things You Need To Know About Ganga River In Hindi 

 

गंगामाता को माता क्यों कहेते है ?

गंगा नदी सबसे बड़ी नदियों में से एक है | गंगा नदी को भारत के लोग बड़े श्रद्धा और आदर  से गंगा मैया बोलते हैं | यानी भारतीयों को वह अपनी मां जैसी प्यारी लगती है | कई लोग इसको देवी की तरह मानते हैं | और इसकी पूजा भी करते हैं | हर रोज मां  गंगा की बड़े भक्ति भाव के साथ  भी की जाती है|  घर घर में कई धार्मिक विधि में गंगा जल का उपयोग करते हैं इतना ही नहीं अगर कोई व्यक्ति गुजर जाती है तो भी उसके मुंह में गंगा जल डाल देते हैं|

गंगा नदी से सबको इतना लगाव क्यों है आइए इसके कारण देखते हैं |

 

 धार्मिक – Things You Need To Know About Ganga River In Hindi

 

गंगा नदी का उगम भगवान शिव जी के सिर से हुआ है|  ऐसा माना जाता है | तो भगवान शिव जी जैसा अनन्य  साधारण महत्व गंगा नदी का भी है |

गंगा नदी में स्नान करने से हर एक पाप धो जाते हैं |इसी श्रद्धा के  कारण से भी गंगा नदी का महत्व अनन्य साधारण है |

गंगा नदी का जल वर्षों तक रखा कभी खराब नहीं होता |

गंगा नदी के तट पर अनेक पवित्र देवताओं का निवास है जैसे बनारस काशी प्रयाग हरिद्वार |

हिमालय पर्वत की बर्फ पिघल कर इसमें आती है गंगा नदी में पूरे साल भर जल रहता है |

लाखों एकड़ जमीन इस जल से सिंचित होती है |

इस नदी के कारण करोड़ों लोगों की प्यास बुझती| है |

मकर संक्रांति गंगा दशहरा और 12 साल में एक बार आने वाला कुंभमेला ऐसे कई उत्सव पर हो मैं गंगा स्नान का अनन्य साधारण महत्व है |

 

आर्थिक

 

गंगा नदी के सहारे भारत और बांग्लादेश के बहुत बड़े क्षेत्र में बारह मासी सिंचाई होती है | इन क्षेत्र में धान, गन्ना,  गेहू,आलू जैसे महत्वपूर्ण उपज लिए जाते हैं | इसके साथ ही तटीय क्षेत्र में दल दल तथा झीलों के कारण सरसों तेल, जुट आदी फसल भी होती है | नदी में मत्स्य उद्योग भी बहुत जोरों पर चलता है | गंगा नदी पर लगभग 375 मत्स्य जाती उपलब्ध है | गंगा नदी के कारण पर्यटन व्यवसाय भी चलता है |

 

 भौगोलिकता

 

गंगा नदी  (Ganga River) का उगम स्थल केदारनाथ चोटी के उत्तर में गुरुमुख नामक स्थान पर 6600 मीटर की ऊंचाई पर हमानी से है |

गंगा नदी की कुल लंबाई 2525 किलोमीटर है |

गंगा नदी की अलकनंदा ,भागीरथी ,रामगंगा,  यमुना ,गोमती, घागरा ,गंडक,कोसी जैसे सहायक नदियां है |

इस नदी के किनारे हरिद्वार, कानपुर, इलाहाबाद, पटना, भागलपुर ,वाराणसी, कोलकाता जैसे बसे है |

गंगा नदी के जल में बैक्टीरियोफेज नामक विषाणु होते हैं जो जीवाणुओं व अन्य हानिकारक सूक्ष्म जीवों को जीवित नहीं रहने देते |

 

ऐसेही जानकारीसे भरपूर लेख आप इस संकेतस्थल में देख सकते है

भारत की पहली महिला डॉक्टर कोन है ये पढ़ने के लिये यहाँ   क्लिक करे